Sanjay Dutt का जीवन किसी फिल्म कहानी से कम नहीं !

Sanjay Dutt का जीवन किसी फिल्म कहानी से कम नहीं !

आजकल मीडिया में जहां देखो फिल्म संजू की बात हो रही है. Sanjay Dutt के जीवन पर बनी फिल्म संजू का किरदार रणबीर कपूर शानदार तरीके से निभाया. फिल्म ने लगभग 300 करोड़ का कारोबार किया. Sanjay Dutt ki life में ऐसे कौन-कौन से रोचक किस्से हुए थे जिसकी वजह से निर्देशक राजकुमार हिरानी को ये बायोग्राफी बनाने की सूझी. इसके बारे में मह आपको बताते हैं.

सेलिब्रिटी के घर हुआ था जन्म

Image Source : WikiBio

29 जुलाई, 1959 को मुंबई में जन्मे संजू बाबा फिल्म अभिनेता सुनील शेट्टी और अभिनेत्री नरगिस की संतान हैं. संजू बाबा की दो छोटी बहने प्रिया और नम्रता दत्त हैं. संजय अपने माता-पिता के एकलौते लड़के हैं शायद इसलिए वे अपनी मां के बेहद करीब थे और जब उन्हें अपनी मां की बीमारी के बारे में पता चला था तब वे सह नहीं पाए और ड्रग्स एडिक्ट बन गए थे. संजय दत्त अपने पिता की फिल्म रेश्मा और शेरा (1971) में एक कव्वाली में नजर आए थे, तब वे मात्र 12 साल के थे.

शुरुआती करियर कुछ ऐसा रहा

Image Source : ThePrint

संजय दत्त की शुरुआती पढ़ाई मुंबई में हुई लेकिन सुनील दत्त और नरगिस के फिल्मों में व्यस्त होने के कारण संजय को हिमाचल प्रदेश के द लॉरेंस बोर्डिंग स्कूल में भेज दिया गया. आपको बता दें कि सुनील दत्त ने ये फैसला संजय के भविष्य के लिए नरगिस के खिलाफ जाकर लिया था. स्टारकिड होने के कारण संजय दत्त को ज्यादा संघर्ष नहीं करना पड़ा था, 12 साल की उम्र में एक फिल्म में नजर आने के बाद उन्होंने साल 1981 में फिल्म रॉकी से धमाकेदार डेब्यु किया. फिल्म तो सुपरहिट रही लेकिन इसके रिलीज होने के महज 1 महीने बाद इनकी मां नरगिस का निधन हो गया और संजू ड्रग्स एडिक्ट बन गये थे.

इसके बाद मुंबई पुलिस ने अवैध रूप से ड्रग्स रखने के जुर्म में संजू को गिरफ्तार कर लिया और अदालत ने उन्हें 5 महीने की सजा सुना दी थी. जेल से आने के बाद सुनील दत्त ने संजू को यूएस के टेक्सास में रिहैबिलिटेशन सेंटर भेज दिया था, जहां ड्रग्स एडिक्ट को सही किया जाता है.

कोर्ट के चक्कर फिर भी दी हिट फिल्में

Image Source : Hindustan Times

साल 1993 में मुंबई बम ब्लास्ट मामले में संजय दत्त के घर की तलाशी हुई और जिसमें AK-47 पुलिस को बरामद हुई और इस आरोप में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था. जिसके बाद संजय को कई बार कोर्ट के चक्कर लगाने पड़े और उनके पिता ने संजू को बचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी. इसके बाद साल 2005 में संजू के पिता का भी निधन हो गया और संजय इस केस में फंसते चले गए. आखिर में साल 2013 में संजू को कोर्ट ने 5 साल की सजा सुना दी थी, हालांकि वे कई बार पैरोल पर बाहर आए और साल 2016 में उन्हें रिहाई मिल गई थी.

जब संजू के ऊपर इस बम ब्लास्ट का केस शुरु हुआ तब वे सड़क, खलनायक, साजन, नाम, थानेदार और इलाका जैसी फिल्मों से सुपरस्टार बन चुके थे. इन फिल्मों के अलावा संजू ने रास्कल, वास्तव, परिणीता, धमाल, हसीना मान जाएगी, मुन्ना भाई एमबीबीएस, लगे रहो मुन्नाभाई, पीके, अग्निपथ और कांटे जैसी सुपरहिट फिल्मों में अपने शानदार अभिनय से सबका दिल जीता.

58 साल के संजय दत्त ने अपनी जिंदगी में बहुत उतार-चढ़ाव देखे हैं लेकिन उन्हें सफलता भी खूब हासिल हुई. 35 साल के फिल्मी करियर में संजू बाबा को 4 नेशनल अवॉर्ड्स, दो फिल्मफेयर, दो आईआईएफए, दो बॉलीवुड मूवी, तीन स्क्रीन, तीन स्टारडस्ट, एक ग्लोबल इंडियन फिल्म और बंगाल फिल्म पत्रकार एसोसिएशन अवार्ड्स मिल चुके हैं.

Sanjay Dutt wife और उनके कई अफेयर्स

Image Source : indiatvnews

संजय दत्त ने जितनी सुर्खियां जेल और कोर्ट जाने में बटोरी उतनी ही शादियों और अफेयर्स से भी बटोरी है. संजय ने साल 1987 में रिचा शर्मा से शादी की, जिनसे उन्हें एक बेटी त्रिशला है. साल 1996 में रिचा का निधन अमेरिका के एक अस्पताल में ब्रेन ट्यूमर की वजह से हो गया था. संजय को इस बात का गहरा सदमा लगा था साथ ही उनके ऊपर मुंबई बम ब्लास्ट का केस भी चल रहा था जिसमें वे बुरी तरह टूट गए. फिर उनकी जिंदगी में रिया पिल्लई आई जिनसे संजू बाबा ने साल 1999 में शादी की लेकिन साल 2005 में वे तलाक ले चुके थे. रिया ने संजू पर आरोप लगाया था कि उनके कई दूसरी लड़कियों से अफेयर है.

इसके बाद संजय की मुलाकात मान्यता से हुई और वे लिव इन में रहने लगे. कुछ लोगों ने मान्यता पर गलत आरोप लगाए जिसकी वजह से संजय ने साल 2008 में मान्यता से शादी कर ली. उन्हें दो जुड़वा बच्चे भी हुए. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक संजय का दिल अभिनेत्री माधुरी दीक्षित के लिए धड़क चुका है लेकिन बार-बार जेल जाने और आरोप लगने की वजह से माधुरी ने इस रिश्ते को आगे नहीं बढ़ने दिया.

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *