Happy Birthday Mahi: फिल्म से कितने अलग हैं M.S. Dhoni ?

Happy Birthday Mahi: फिल्म से कितने अलग हैं M.S. Dhoni ?

MS Dhoni Biography in Hindi- क्रिकेट की दुनिया में बहुत से ऐसे लोग आए और गए जिन्होंने एक खास मुकाम हासिल किया लेकिन इसके साथ ही वे लोगों के दिलों में भी उतरे। ये खुशनसीबी हर किसी को तो नहीं मिली लेकिन M.S. Dhoni को जरूर मिली जो अपनी सादगी से लोगों का दिल जीतते हैं। एम एस धोनी का पूरा नाम महेंद्र सिंह धोनी है और ये ना सिर्फ क्रिकेट प्रेमियों के फेवरेट हैं बल्कि जो लोग क्रिकेट नहीं पसंद करते है उन्हें भी धोनी के प्रदर्शन का इंतजार करते हैं।

महेंद्र सिंह धोनी ने अपने करियर में जितना अच्छा क्रिकेट प्रदर्शन किया उतना ही अच्छे स्वभाव के लिए फेमस हैं। धोनी का Nick Name माही है और टीम में भी सभी उन्हें माही भाई ही कहते हैं। भारत के कई युवा जो क्रिकेट खेलने की इच्छा रखते हैं वे M.S. Dhoni को फॉलो करते हैं। चलिए बताते हैं आपको उनके बारे में कुछ दिलचस्प बातें..

1. 7 जुलाई, 1981 को बिहार के रांची (अब झारखंड में) में जन्मे महेंद्र सिंह धोनी एक साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं. इनके पिता पान सिंह मेकॉन के रिटायर्ड कर्मचारी हैं और उनकी मां देवकी देवी एक हाउसवाइफ हैं.

2. एम.एस. धोनी के एक बड़े भाई नरेंद्र सिंह धोनी पॉलिटीशयन हैं और बड़ी बहन जयंती गुप्ता इंग्लिश टीचर हैं. माही संग इन सबकी पढ़ाई रांची के डीएवी जवाहर विद्या मंदिर में हुई है लेकिन माही एक एथलेटिक छात्र रहे हैं जिनकी पहले रूची फुटबॉल और बैडमिंटन में रही है.

3. महेंद्र सिंह धोनी स्कूल के समय फुटबॉल टीम के बेहतरीन गोल कीपर थे. बाद में उन्हें फुटबॉल कोच ने क्रिकेट टीम के विकेटकीपर के लिए उन्हें पास के क्रिकेट क्लब में भेज दिया.

Dhoni
Image Courtesy : Wah Cricket

4. M.S Dhoni ने वहां सबको अट्रैक्ट किया और साल 1995-98 के दौरान कमांडो क्रिकेट टीम में नियमित विकेटकीपर के रूप में स्थायी जगह मिल गई. धोनी को अंडर-16 में चुना गया और 10वीं के रिजल्ट के बाद धोनी ने क्रिकेट को गंभीरता से लेना शुरु किया.

5. साल 1998 में भारत के केंद्रीय कोयला फील्ड लिमिटेड टीम में खेलने के लिए धोनी को चुना गया और इस दौरान धोनी ने बिहार क्रिकेट एसोसिएशन के पूर्व राष्ट्रपति देवल सहाय को अपने बेहतरीन प्रदर्शन से प्रभावित किया. जिन्होंने इन्हें आगे खेलने के लिए प्रेरित किया.

6. साल 1998-99 में इन्हें पूर्वी जोन अंडर-19 में चुना गया मगर दुर्भाग्य से धोनी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए. साल 199-2000 में धोी को रणजी ट्रॉफी खेलने का मौका दिया गया और इसमें धोनी ने 68 रन नाबाद बनाए.

7. क्रिकेट में कोई भविष्य नहीं है इसके लिए उनके पिता ने उन्हें सरकारी नौकरी के लिए प्रेशर डाला और ना चाहते हुए भी M.S Dhoni ने 20 साल की उम्र में रेलवे की नौकरी हासिल कर ली. साल 2001-03 तक धोनी ने रेलवे में टीटीई के पद पर काम किया लेकिन धोनी का मन क्रिकेट की तरफ भागता था.

Dhoni
Image Courtesy : espncricinfo

8. साल 203 के मध्य में धोनी ने नौकरी छोड़ने का फैसला अपने घरवालों को बिना बताए कर लिया और उन्होंने अपनी मेहनत से बिहार अंडर-19 में जगह बना ली थी.

9. कई प्रयासों के बाद साल 2003-04 के बीच में उन्होंने टीम इंडिया में जगह बना ली और केन्या के लिए पहला दौरा किया था. मैच के दौरान धोनी ने विकेट कीपर के तौर पर खेला.

10. महेंद्र सिंह धोनी ने पाकिस्तान टीम को बैक टू बैक हराया और अर्धशतक भी बनाया. इस तरह धोनी के बेहतरीन प्रदर्शन को सौरव गांगुली ने नोटिस किया था.

11. साल 2006 में धोनी को टीम इंडिया का कप्तान बनाया गया और 20-20 वर्ल्डकप-2007 में इन्होने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच जीता, इसके बाद लोगों में M.S Dhoni की लोकप्रियता बढ़ी.

Dhoni
Image Courtesy : Hindustan Times

12. साल 2011 में वर्ल्डकप जीतने के बाद धोनी क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन के भी फेवरेट हो गए और इन्हें पूरी दुनिया में लोग पहचानने लगे.

13. IPL में चेन्नई सुपरकिंग्स ने महेंद्र सिंह धोनी को 5 मिलियन डॉलर यानी 10 करोड़ रुपये में खरीदा था और ये उस समय के सबसे महंगे खिलाड़ी रहे हैं. अपनी कप्तानी में इन्होंने चेन्नई सुपरकिंग्स को कई जीत दिलाई है.

14. महेंद्र सिंह धोनी को उनके बेहतरीन प्रदर्शन के लिए ना जाने कितने अवॉर्ड दिए गए. पद्मश्री, पद्मभूषण, राजीव गांधी खेल रत्न, आईसीसी ओडीआई प्लेयर ऑफ दी ईयर जैसे कई अवॉर्ड्स मिल चुके हैं.

15. M.S.Dhoni कपिल देव के बाद दूसरे ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें इंडियन आर्मी का सम्मान दिया गया है. साल 2012 में ये दुनिया के सबसे कीमती खिलाड़ियों मे 16वें नबंर पर थे.

16. महेंद्र सिंह धोनी की बायोपिक में ये बात सामने आई कि उनकी गर्लफ्रेंड प्रियंका झा से उनका अच्छा रिश्ता था लेकिन साल 2002 में प्रियंका की डेथ कार एक्सिडेंट में हो गई थी. उस दौरान धोनी इंडिया टी के साथ दौरे पर थे और जब ये खबर उन्हें मिली तो वे वापस आ गए औऱ करीब 1 साल तक वे ठीक से खेल नहीं पाए थे.

Dhoni
Image Courtesy : yovizag

17. साल 2008 में एम.एस धोनी एक होटल में रुके थे तब उनकी मुलाकार साक्षी रावत से हुई और वे उस होटल में इंटर्न के रूप में काम करती थीं. यहां इनकी दोस्ती हुई और फिर दोनों ने डेटिंग शुरु कर दी.

18. साल 2010 में धोनी ने साक्षी के साथ शादी कर ली और फिर साल 2015 में इन्हें एक बेटी जीवा हुई जो धोनी की जान हैं.

19. क्रिकेट के अलावा धोनी की विज्ञापन से भी जुड़े हैं और इसके अलावा महंगी गाड़ियों का कलेक्शन रखते हैं. रिपोर्ट्स के मुताबित इन्हें गाड़ी और बाइक का बहुत शौक है.

20. एक आम परिवार से होने के नाते धोनी के लिए यहां तक पहुंचना आसान नहीं था लेकिन वे यहां आए इसके पीछे उनकी कड़ी मेहनत है.

यह भी पढ़ें : 12 साल की उम्र में Ranveer Singh ने खो दी थी अपनी वर्जिनिटी !

 

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *