बनना कुछ और था और बन कुछ और गए, कुछ ऐसी कहानी है चेतन भगत की

Chetan Bhagat

इंसान अपने बचपन से जो भी बनने का सपना देखते हैं शायद ही वो कभी पूरा हो पाता है. कुछ ऐसा ही हुआ लेखक और फिल्म प्रोड्यूसर चेतन भगत के साथ, जो बनना कुछ और चाहते थे किया कुछ और लेकिन किस्मत ने उन्हें कुछ और बना दिया. बॉलीवुड में कई फिल्में ऐसी भी बनी जो उपन्यास पर आधारित रही है. जिसमें चेतन भगत द्वारा लिखे उपन्यास पर कुछ ज्यादा ही बनाई गई हैं जो सफल रहीं.

आज हम रोचक सफर मे आपको Chetan Bhagat के बारे में कुछ अनसुनी बातें बताएंगे. All about Chetan Bhagat in Hindi –

1. चेतन भगत का जन्म 22 अप्रैल, 1974 में दिल्ली में एक पंजाबी परिवार में हुआ था. इनके पिता आर्मी ऑफिसर थे और मां एक गवर्मेंट एम्प्लॉई जो एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट से थी. इनका छोटा भाई केतन भगत भी नॉवेल लिखता है.

2. साल 1999 में चेतन भगत की शादी अनुशा से हुई जो अहमदाबाद के आई.आई.एम में उनकी क्लासमेट थीं. जिनसे उन्हें दो बच्चे हैं जिनका नाम इशान और श्याम भगत है.

3. Chetan Bhagat की प्रारंभिक शिक्षा नई दिल्ली के सेना पब्लिक स्कूल में हुई. इसके बाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री भी दिल्ली से ही प्राप्त किया.

4. चेतन भगत का सपना एक शेफ बनने का था तब उनके पिता उन्हे इस बात के लिए डांटते थे, फिर बाद में इंजीनियरिंग की पढाई की और कुछ सालों के बाद इंवेस्टमेंट बैंक की नौकरी करने HongKong चले गये.

5. वहां से चेतन भगत को लिखने का शौक हो गया लेकिन उनके साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ जिसके बारे में वे कुछ लिख पाते. फिर उनके दिमाग में एक आइडिया आया कि जब वे कॉलेज में थे तो वहां की कुछ बातों को लिखा जाए.

6. इसके बाद चेतन भगत ने रात दिन एक करके ‘Five Points Someone, What not to do at I.I.T’ उपन्यास लिखा. जिसमें आई.आई.टी दिल्ली हॉस्टल के तीन लड़कों की कहानी थी.

चेतन भगत
Image Courtesy : Samaydhara

7. उस उपन्यास को दिल्ली की रूपा एंड कंपनी ने साल 2004 में प्रकाशित किया. इस उपन्यास में एक मैसेज भी था जिसे पाठकों ने बहुत पसन्द किया. जिसके बाद चेतन युवाओं में सबसे लोकप्रिय लेखक बन गये और बैंक की वो नौकरी छोड़कर भारत वापस आ गये.

8. Chetan Bhagat ने एक इंटरव्यू में बोला था कि हाईप्रोफाइल जॉब छोड़ने का उन्हें कोई गम नही है क्योंकि आज वे बड़ी-बड़ी कंपनियों के लिए कॉलम्स लिखते हैं. कुछ कंपनियों में उन्हें मोटिवेशन बातें करने के लिए बुलाया जाता है, दुनिया वैसे ही उन्हें पहचान रही है.

9. चेतन भगत यूथ, करियर डेवलपमेंट और करंट अफेयर्स पर कॉलम भी लिखने के साथ ही टाइम्स ऑफ़ इंडिया (अंग्रेजी में) और दैनिक भास्कर (हिंदी में) के लिए भी लेख लिखते है.

10. चेतन भगत के उपन्यासों की करीब 7 मिलियन कॉपी बिक चुकी है. साल 2008 में न्यूयॉर्क टाइम्स ने चेतन भगत को “भारतीय इतिहास का सबसे ज्यादा बिकने वाले अंग्रजी भाषा का उपन्यासकार बताया था”.

11. चेतन भगत की स्क्रीनराइटिंग में फिल्म काई पो चे! (2013) और 2 स्टेट्स (2014) और एक्शन-सुपर हीरो मूवी किक (2015) शामिल है. उन्होंने साल 2014 में 59वें फिल्मफेयर अवार्ड्स में बेस्ट स्क्रीनप्ले फॉर काई पो चे! फिल्मफेयर अवार्ड भी जीते है.

12. इसके अलावा चेतन भगत को सोसाइटी यंग अचीवर्स अवार्ड (2004), पब्लिशर्स रिकग्निशन अवार्ड (2005), साल 2010 में टाइम्स पत्रिका में दुनिया के सबसे प्रभावशाली 100 व्यक्तियों की सूचि में शामिल किया गया, काई पो चे! के लिये साल 2014 में बेस्ट स्क्रीनप्ले के लिये फिल्मफेयर अवार्ड और मनोरंजन के क्षेत्र में योगदान के लिये साल 2014 में CNN-IBN अवार्ड दिया गया.

13. Chetan Bhagat की एक और लोकप्रिय नॉवेल है ‘हार्फ गर्लफेंड’ जिसपर एक फिल्म भी बनी है जिसे मई 2017 में रिलीज होगी. इस फिल्म में श्रद्धा कपूर और अर्जुन कपूर मुख्य भूमिका में नजर आएंगे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*